SAD SHAYARITWO LINE SHAYARI

Sad Shayari in Hindi | Amazing Shayari

 Sad Shayari :- यहाँ पर पढ़िए इश्क़, प्यार, मोहब्बत, और ज़िन्दगी से जुड़ी बहुत ही सैड शायरी हिंदी में और महसूस कीजिए उस बेहद ही ख़ास दर्द को, जो हमें किसी से प्यार करने पर या जिंदगी में आने वाली कई प्रकार की तकलीफों से होता है।

Very सैड शायरी  Hindi | Top Sad Shayari

Also Read:- Sad Quotes In Hindi

Also Read:- Sad Quotes In Hindi

सांस लेने से तेरी याद आती है,
सांस नहीं लेता तो जान भी जाती है,
कह दू कैसे की इस सांस से जिंदा हूं मै,
ये सांस भी तो तेरी याद के बाद ही आती है।

जिंदगी तो कट ही जाती है,
बस यही एक जिंदगी भर
गम रहेगा की हम उसे ना पा सके।

तेरे जाने के गम में रो कर रात गुजरती है,
आखिर क्यों तूने मुझे धोखा दिया,
तेरे बिना जिंदगी अब अधूरी सी लगती है,
किस लिए तूने मुझे अकेला छोड़ दिया।

उन्हें चाहना मेरी कमज़ोरी हैं;
उनसे कह नहीं पाना मेरी मज़बूरी हैं;
वो क्यों नहीं समझते मेरी खामोशी;
क्या प्यार का इज़हार करना जरुरी हैं।

मोहब्बत कभी झूठी नही होती है,
झूठे तो कसमे, वादे और लोग होते हैं।

याद बन कर मुझे सताओ ना तुम इस तरह,
तेरी याद में मेरा रो रो कर बुरा हाल है,
बस एक बार मेरी ज़िन्दगी में वापस आ जाओ,
मेरे दिल में बस अब तेरा ही ख्याल है।

हमारे अकेले रहने की एक वजह ये भी है,
की हमे झूठे लोगो से रिश्ता तोड़ने में
ज़रा भी डर नही लगता है।

Sad Shayari in Hindi

इश्क़ ऐसा था कि उनको बता ना सके,
चोट थी दिल पे जो दिखा ना सके,
नहीं चाहते थे हम उनसे दूर होना,
लेकिन दूरी इतनी थी कि हम मिटा ना सके।

दुआ करो जो जिसे मोहब्बत करे वो उसे मिल जाये,
क्योंकि बहुत रुलाती है ये अधूरी मोहब्बत।

अकेला छोड़ कर मुझे तुम तनहा कर गए,
अधूरा सा मेरा हर लम्हा कर गए,
प्यार क्यों किया मुझसे अगर निभाना ना था,
बस जिंदा है अब ये शरीर,मेरे जज्बात मर गए।

वो दर्द दे गए सितम भी दे गए,
ज़ख्म के साथ वो मरहम भी दे गए,
ओ लफ्जो से कर गए अपना मन हल्का,
हमे कभी न रोने की कसम दे गए।

कहाँ कोई मिला ऐसा जिसपे दिल लुटा देते,
हर एक ने धोखा दिया किस किसको भुला देते,
अपने दर्द को दिल ही में दवाये रखा,
करते बयां तो महफ़िलों को रुला देते।

इंसान की ख़ामोशी ही काफ़ी है,
ये बताने के लिये की वो अंदर से टूट चूका है।

न सीरत नज़र आती है,
न सूरत नज़र आती है,
यहाँ हर इंसान को बस,
अपनी ज़रूरत नज़र आती है।

हम जले तो सब चिराग समझ बैठे,
जब महके तो सब गुलाव समझ बैठे,
मेरे लफ्जों का दर्द किसी ने नहीं देखा,
शायरी पड़ी तो शायर समझ बैठे।

गुजरता वक़्त हमें एहसास दिला देता है,
जिसे चाहते हैं हम वो ही दिल दुखा देता है,
वक़्त मरहम लगा देता है जिन जख्मो पर,
कोई अपना उस दर्द को फिर से जागा देता है।

मेरी तन्हाई को मेरा शौक मत समझना,
क्योंकि किसी अपने ने ये बहुत प्यार से दिया था तोहफे में।

हमने कब माँगा है,
अपनी वफाओं का सिला,
बस दर्द देते रहा करो,
मोहब्बत बढ़ती जाएगी।

अब तो मेरे दुश्मन भी मुझे ये कह कर अकेला छोड़ गये,
की जा तेरे अपने ही बहुत हैं तुझे रुलाने के लिए।

पूछा था हाल उन्होंने मेरा
बड़ी मुद्दतों के बाद,
कुछ गिर गया है आँख में,
कह कर हम रो पड़े।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button